चीन में कोरोना की बेकाबू रफ्तार, श्मशान घाटों पर लाशों के अंबार, एक्सपर्ट बोले- लाखों लोगों की हो सकती है मौत

0
228

कोविड-19 प्रतिबंधों में ढील के बाद चीन  में कोरोनो वायरस  के मामलों में तेजी आई है। एपिडेमोलॉजिस्ट एरिक फीगल-डिंग  ने बताया कि चीन में अस्पताल पूरी तरह से चरमरा गए हैं। महामारी विशेषज्ञ का अनुमान है कि अगले 90 दिनों में चीन के 60 प्रतिशत से अधिक और पृथ्वी की 10 प्रतिशत आबादी के संक्रमित होने की संभावना है और लाखों लोगों की मौत भी हो सकती है।

तेजी से फैल रहा है वायरस

वॉल स्ट्रीट जर्नल की रिपोर्ट के अनुसार, श्मशान में आने वाले कोविड संक्रमित शवों की संख्या में अचानक वृद्धि हुई है क्योंकि चीन की राजधानी में वायरस तेजी से फैल रहा है। महामारी प्रतिबंधों में अचानक ढील देने के बाद इस तरह के हालात बने हैं। फीगल-डिंग ने तो यहां तक कहा कि, चीनी कम्युनिस्ट पार्टी ने बढ़ते मरीजों की वजह से यहां तक कह दिया है कि, “जिसे भी संक्रमित होना है, संक्रमित होने दें, जिसे मरने की जरूरत है, उसे मरने दें।” स्वास्थ्य विशेषज्ञ ने ये भी दावा किया है कि अब चीन में संक्रमितों की संख्या एक दिन से भी कम समय में दोगुनी हो सकती है। जानकारी के मुताबिक अधिकारियों ने 19 और 23 नवंबर के बीच चार मौतों की घोषणा के बाद से चीन ने बीजिंग में कोई कोविड-19 मौत की सूचना नहीं दी है।

श्मशान घाट में बढ़ी शवों की संख्या

चीन की राजधानी बीजिंग डोंगजियाओ श्मशान घाट में काम करने वाले लोगों के हवाले से दावा किया है देश में पिछले कुछ दिनों में दाह संस्कार और अन्य अंत्येष्टि सेवाओं के अनुरोधों में उछाल आया है। शुक्रवार को श्मशान घाट पर फोन पर बात करने वाली एक महिला ने कहा, “कोविड के फिर से आने के बाद से काम का बोझ बढ़ गया है।” महिला ने कहा कि डोंगजियाओ शवदाह गृह पर इतने शव आ रहे हैं कि, तड़के सुबह से लेकर आधी रात तक दाह संस्कार करना पड़ रहा है। श्मशान में हर दिन लगभग 200 शव आते हैं। महिला ने ये भी बताया कि बढ़ते मामलों की वजह से कई अन्य लोग भी संक्रमित हो गए हैं।

चीन में कोरोना की लहर

इस बीच बता दें कि, चीन के एक शीर्ष स्वास्थ्य अधिकारी ने कहा है कि इस सर्दी में चीन कोविड-19 की तीन संभावित लहरों में से पहली लहर का सामना कर रहा है। महामारी विज्ञानी ने कहा कि उनका मानना है कि संक्रमण दर में मौजूदा इजाफा जनवरी के मध्य तक चलेगा, जबकि दूसरी लहर के जनवरी के अंत तक तेज हो जाने की संभाना है। जुन्यो ने आगे कहा कि कोरोना वायरस के केसों में तीसरा उछाल फरवरी के अंत से मार्च के मध्य तक चलेगा, क्योंकि लोग छुट्टी बिताने के बाद काम पर लौटेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here